Showing posts with label पत्रिका-किताब. Show all posts
Showing posts with label पत्रिका-किताब. Show all posts

एक गाथा; विकास के बढ़ते कदम की (जिला नारायणपुर)


संस्करण: प्रथम संस्करण
प्रकाशन तिथि: जनवरी 2022

प्रकाशक:
आईपीएस श्री गिरिजा शंकर जायसवाल,
पुलिस अधीक्षक, नारायणपुर

विशेष सहयोग (लेखन):
# श्री नीरज चंद्राकर, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक, नारायणपुर
# सुश्री उन्नति ठाकुर, उप पुलिस अधीक्षक, अजाक/मुख्यालय, नारायणपुर
# श्री दीपक साव, आरआई, नारायणपुर
# श्री हुलेश्वर जोशी, प्रधान आरक्षक, पुलिस लाइन, नारायणपुर

टाइपिंग एवं ग्राफिक्स सेटिंग्स:
श्री हुलेश्वर जोशी,
प्रधान आरक्षक, पुलिस लाइन, नारायणपुर

 


Share:

हिन्दी - गोण्डी संक्षिप्त शब्दकोश






निर्देशन एवं मार्गदर्शन
श्री गिरिजा शंकर जायसवाल, आईपीएस,
पुलिस अधीक्षक, नारायणपुर


द्वितीय संशोधित संस्करण के प्रकाशन में विशेष योगदान :
श्री नीरज चन्द्राकर, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक
श्री दीपक कुमार साव, रक्षित निरीक्षक


टायपिंग एवं ग्राफिक्स सेंटिंग
श्री हुलेश्वर जोशी, प्रधान आरक्षक


अनुवादक एवं मात्रात्मक त्रूटियों में सुधार
श्री अशोक दुग्गा, प्रधान आरक्षक
श्री जय वासनिक, आरक्षक




हिन्दी - गोण्डी संक्षिप्त शब्दकोश के सम्बन्ध में आवश्यक जानकारी :
यह शब्दकोष बस्तर संभाग, खासकर जिला नारायणपुर में शासकीय सेवा, स्वरोजगार और भ्रमण में आने वाले लोगों के मार्गदर्शन सहयोग हेतु पुलिस प्रशासन और आम नागरिकों के मध्य बेहतर कम्युनिकेशन स्थापित करने के उद्देश्य से तत्कालीन पुलिस अधीक्षक आईपीएस श्री माहित गर्ग के मार्गदर्शन और निर्देशन में उप पुलिस अधीक्षक श्री प्रशांत राही के नेतृत्व में तैयार किया गया था। जिसका हिन्दी-गोण्डी अनुवाद, टायपिंग और सेटिंग संबंधी कार्य श्री जैनू करंगा (आरक्षक), श्री शंकर वड्डे (आरक्षक), श्री लक्ष्मी माझी (आरक्षक) व साथियों द्वारा किया गया था। इसे तैयार कराने में स्थानीय पुलिस अधिकारियों के साथ-साथ स्थानीय लोगों, आत्मसमर्पित नक्सलियों का भी यहम योगदान रहा है। बस्तर फाईटर आरक्षक संवर्ग के अभ्यार्थियों को निःशुल्क वितरण हेतु आईपीएस श्री गिरिजा शंकर जायसवाल के निर्देशानुसार द्वितीय संशोधित संस्करण का 1000 प्रति प्रकाशन किया जाकर वितरित की गई है। प्रकाशन पूर्व कतिपय त्रूटियों को दूर करने का प्रयास किया गया है, इसके बावजूद क्षेत्रीय भाषाई ज्ञान के आधार पर कतिपय कमियां हो सकती है।
Share:

नाटक "दसरी" (नाटककार श्री एचपी जोशी)


नाटक के मूल अवधारणा :-
अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्री नीरज चन्द्राकर
सुश्री आरती गर्ग


निर्देशक, स्क्रिप्ट राईटर और वक्ता :-
श्री हुलेश्वर जोशी, प्रधान आरक्षक


सह निर्देशक :-
कु. स्वाति पट्टावी (छात्रा), 
कु. वंदना नाग (छात्रा),
श्री दिलीप निर्मलकर (आरक्षक) 
 श्री हरिश उईके (आरक्षक)


विशेष मार्गदर्शन :-
अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्री नीरज चन्द्राकर, 
उप पुलिस अधीक्षक सुश्री उन्नति ठाकूर, 
श्रीमती जागृति डी.


पात्र परिचय:
रमेसर (पिता) का रोल - श्री हरीश उइके, 
लछमी (माता) का रोल - चंद्रक्रान्ति, 
बेटी दसरी का रोल - कु. नेहा मंडावी, 
बेटी संतोषी का रोल - कु. रिया दुग्गा, 
बेटी कारी का रोल - कु. बिनेश्वरी यादव, 
बेटा ललित का रोल - ललित जुर्री, 
काकी का रोल - श्रीमती पूर्णिमा ठाकुर, 
भुरवा काका, गांव के गौटिया और वक्ता का रोल - श्री हुलेश्वर जोशी, 
लड़का सत्यवान का रोल - श्री कन्हैया वैष्णव, 
लड़के के पिता प्रोफेसर कृष्णकांत का रोल - श्री चेतन बघेल, 
डॉक्टर का रोल - श्री दिलीप निर्मलकर, 
नर्स का रोल - कु.कृष्टि राठौर 
पुलिस अधिकारी का रोल - श्री सतीश दर्रो एवं साथी जवान 

Share:

नारायणपुर पुलिस की उपलब्धियां 2019-2020


नारायणपुर पुलिस की उपलब्धियां 2019-2020, आईपीएस मोहित गर्ग के नेतृत्व में 

हम विकास, विश्वास और सुरक्षा के ध्येय से मजबूत और विश्वसनीय पुलिसिंग की दिशा में अपने लक्ष्य की ओर निरंतर अग्रसर है, हमारे इस लक्ष्य की प्राप्ति में नारायणपुर पुलिस के प्रत्येक अधिकारी/कर्मचारियों का अहम योगदान है। चाहे वे अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक से आरक्षक स्तर के जवान हों, या सहायक आरक्षक और गोपनीय सैनिक सबने मिलकर साझा प्रयास किया है। हमारे लक्ष्य में केन्द्रीय बलों और छत्तीसगढ़ सशस्त्र बल के जवानों का भी अहम योगदान है। मै बतौर पुलिस अधीक्षक नारायणपुर जिला में तैनात होकर कार्य करने वाले समस्त बल को बधाई देता हूं, साथ ही अपेक्षा करता हूं कि आगामी भविष्य में भी निरंतर इसी तरह पूरी निष्ठा और ईमानदारी से अनुशासित और समर्पित होकर कार्य करते रहेंगे।

मोहित गर्ग, IPS 
पुलिस अधीक्षक, नारायणपुर

नारायणपुर पुलिस की उपलब्धियां 2019-2020, आईपीएस मोहित गर्ग के नेतृत्व में कॉफी टेबल बुक पढ़ने एवं डाउनलोड करने के लिए यहाँ क्लिक करें। 



Share:


सबसे अधिक बार पढ़ा गया लेख


यह वेबसाइट /ब्लॉग भारतीय संविधान की अनुच्छेद १९ (१) क - अभिव्यक्ति की आजादी के तहत सोशल मीडिया के रूप में तैयार की गयी है।
यह वेबसाईड एक ब्लाॅग है, इसे समाचार आधारित वेबपोर्टल न समझें।
इस ब्लाॅग में कोई भी लेखक/कवि/व्यक्ति अपनी मौलिक रचना और किताब निःशुल्क प्रकाशित करवा सकता है। इस ब्लाॅग के माध्यम से हम शैक्षणिक, समाजिक और धार्मिक जागरूकता लाने तथा वैज्ञानिक सोच विकसित करने के लिए प्रयासरत् हैं। लेखनीय और संपादकीय त्रूटियों के लिए मै क्षमाप्रार्थी हूं। - श्रीमती विधि हुलेश्वर जोशी

प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कैसे करें?

Blog Archive