Thursday, March 08, 2018

श्री जीपी सिंह ने आपातकालीन स्थिति से निपटने के लिए रेल्वे को तैयार रहने का निर्देश दिया

श्री जीपी सिंह ने आपातकालीन स्थिति से निपटने के लिए रेल्वे को तैयार रहने का निर्देश दिया 

श्री जीपी सिंह, पुलिस महानिरीक्षक, दुर्ग रेंज दुर्ग द्वारा रेलवे स्टेशनों में आपातकालीन स्थिति, कानून-व्यवस्था, नक्सली घटना एवं रेलवे की सुरक्षा को दृष्टिगत रखते हुये पुलिस मुख्यालय, रायपुर के निर्देशानुसार दिनांक 07.03.2018 को आरपीएफ, जीआरपी एवं जिला दुर्ग, राजनांदगांव एवं बालोद जिले के पुलिस अधिकारियों की रेंज स्तरीय बैठक ली गई। बैठक में चर्चा उपरांत निम्नानुसार कार्यवाही के निर्देश दिए:-

स्टेशन परिसर में सीसीटीवी कैमरा की स्थापना:-
राजनांदगांव जिले अंतर्गत पनियाजोब रेल्वे स्टेशन एवं बोरतलाव रेल्वे स्टेशन संवेदनशील होने के कारण अपराधियों व असमाजिक तत्वों द्वारा आने-जाने के लिए इन स्टेशनों का उपयोग किया जा सकता है, ऐसे लोगों की पहचान व सुरक्षा हेतु रेल्वे प्रबंधन के माध्यम से सीसीटीवी कैमरा की स्थापना कराया जावे तथा सीसीटीवी कैमरा की सुरक्षा हेतु पर्याप्त प्रबंध भी किया जावे। 
रायपुर रेल्वे स्टेशन में रेल्वे द्वारा सुनियोजित तरीके से कैमरो की स्थापना की गई है, जिसमें आटो से उतरने से लेकर ट्रेन परिसर में घूमने वाले प्रत्येक व्यक्ति पर कैमरे की नज़र रहती है। इसी तर्ज पर दुर्ग एवं राजनांदगांव जिले के रेल्वे स्टेशनों में अपराधिक तत्वों की पहचान व सुरक्षा की दृष्टि से सीसीटीवी कैमरो की स्थापना कराया जावे।
बालोद व दल्ली-राजहरा रेल्वे स्टेशनों एवं संवेदनशील क्षेत्रों में  सीसीटीवी कैमरे स्थापित करने के संबंध मे रेल्वे को प्रस्ताव भेजा जाए ।

रेलवे लाईन की सुरक्षा:- बालोद जिले के गुदुम क्षेत्र में करीब 17 किमी रेल्वे मार्ग पर ट्रायल की कार्यवाही जारी है, जिस पर शीघ्र ही उद्घाटन प्रस्तावित है। इस क्षेत्र की सुरक्षा व्यवस्था बढाई जाएगी। 

आपातकालीन स्थिति से निपटने माॅकड्रील:- रेल्वे स्टेशन एवं क्षेत्रान्तर्गत रेल काॅरिडोर में किसी बडी अप्रिय घटना से निपटने के लिये जीआरपी, जिला बल, आरपीएफ व रेल्वे की रिस्पांस टाईम आदि पर ध्यान रखने हेतु समय-समय पर माॅकड्रील कराया जावे।

अन्य:-
राजनांदगांव अंतर्गत मुढ़ीपार रेल्वे स्टेशन मास्टर को लोकल गाड़ी एवं पैसेंजर गाड़ी विलंब होने की स्थिति में सवारियों द्वारा गाली-गलौच, धमकी व शासकीय कार्य में व्यवधान उत्पन्न करने की जानकारी संज्ञान में आई है। जिस हेतु स्टेशन परिसर में आरपीएफ व जीआरपी का बल तैनात किया जावे तथा ऐसे उपद्रवी तत्वों के खिलाफ पुलिस कार्यवाही की जाएगी। 
आरपीएफ द्वारा रेल्वे संपत्ति की चोरी से संबंधित प्रकरणों, चोरी के आरोपियों की सूची व हिस्ट्रीशीटर आदि की जीआरपी के साथ-साथ जिला पुलिस बल से भी साझा किया जाए, ताकि ऐसे तत्वों के खिलाफ कठोर कार्यवाही किया जा सके।
Share:

Popular Information

Most Information