Saturday, September 12, 2020

ऐतिहासिक पहाड़ी मंदिर, नारायणपुर की गाथा

# ऐसा ऐतिहासिक मंदिर जिसका पुलिस विभाग कर रहा है जीर्णोद्धार और सौन्दर्यीकरण।

रक्षित निरीक्षक श्री दीपक साव और पूर्व रक्षित निरीक्षक श्री एसएस विध्यराज का है विशेष योगदानl

ऐतिहासिक पहाड़ी मंदिर, यहां माता दंतेश्वरी देवी निवास करती हैं, पहाडी मंदिर जिला मुख्यालय, नारायणपुर में स्थिति अकेला प्रमुख धार्मिक स्थल है। यह मंदिर नारायणपुर से कुकराझोर मार्ग में कुम्हारपारा के पास ही उंचे पहाड़ी में स्थित है। चूंकि कुम्हारपारा में ही रक्षित केन्द्र स्थित है इसलिए पुलिस विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों विशेषकर पुलिस अधीक्षक और रक्षित निरीक्षकों ने समय-समय पर अपना अमूल्य योगदान देते हुए लगभग अपनी पहचान खो चूके ऐतिहासिक मंदिर का जिर्णोद्धार कराया। यह मंदिर कई दशकों से स्थित है जो अपने आप में दर्शनिक व प्राकृतिक सौन्दर्य का केंद्र बना हुआ है, नवरात्रि एवं महाशिवरात्रि जैसे पर्व के अलावा भी प्रतिदिन श्रद्धालुओं का आवागमन लगा रहता है। 


उल्लेखनीय है कि सर्वप्रथम रक्षित निरीक्षक श्री एस.एस. विंध्यराज द्वारा तात्कालीन पुलिस अधीक्षक श्री राहूल भगत और पुलिस अधीक्षक श्री मयंक श्रीवास्तव के मार्गदर्शन में अपने कार्यकाल में रक्षित केन्द्र में तैनात पुलिस अधिकारी/कर्मचारियों के सहयोग से वर्ष 2008-2013 के मध्य पहली बार मंदिर के जिर्णोद्धार का कार्य प्रारंभ करते हुए सीढ़ियों में स्टील की रेलिंग, हनुमान जी की मंदिर और जल आपूर्ति हेतु बोरिंग, मोटर और पानी की टंकी इत्यादि का निर्माण कराया था। उसके बाद से निरंतर रक्षित केन्द्र, नारायणपुर के अधिकारी/कर्मचारियों द्वारा समय समय पर छोटी-बडी निर्माण कार्य करवाया जाता रहा है।  


हाल ही में, कोरोना महामारी के दौरान पुलिस अधीक्षक श्री मोहित गर्ग की अध्यक्षता में गठित करूणा फाउण्डेशन के सहयोग एवं मार्गदर्शन में रक्षित निरीक्षक श्री दीपक साव के नेतृत्व में करूणा फाउण्डेशन तथा रक्षित केन्द्र नारायणपुर के अधिकारी/कर्मचारियों के सहयोग से पुनः ऐतिहासिक पहाड़ी मंदिर के सौन्दर्यीकरण का कार्य किया गया है। इसके तहत् पहाड़ी मंदिर प्रांगण में पुराने कलस की साफ सफाई कर रंगों से कलाकृति फ्लॉवर पॉट गमला बनाया गया, रेलिंग, टाइल्स, हवन यज्ञ तैयार किया गया तथा जिर्णोद्धार, सौदर्यीकरण, प्लांटेशन, पत्थरों में चित्रकारिता एवं साज सज्जा के साथ सेल्फी पॉइंट तैयार किया गया, 5नए स्थायी कूड़ादान तैयार कराया गया तथा यात्री प्रतीक्षालय का मरम्मत कार्य व पहाडी मंदिर में टीन शेड का निर्माण भी कराया गया है। करूणा फाउण्डेशन के उपाध्यक्ष श्री रोहित साव के द्वारा हाल ही में 4 अगस्त 2020 को पहाडी मंदिर में राम दरबार की स्थापना भी कराया गया है। 


Others Images 







Share:

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

Fight With Corona - Lock Down

Citizen COP - Mobile Application : छत्तीसगढ़ पुलिस की मोबाईल एप्लीकेशन सिटीजन काॅप डिजिटल पुलिस थाना का एक स्वरूप है, यह एप्प वर्तमान में छत्तीसगढ़ राज्य के रायपुर एवं दुर्ग संभाग के सभी 10 जिले एवं मुंगेली जिला में सक्रिय रूप से लागू है। वर्तमान में राज्य में सिटीजन काॅप के लगभग 1 लाख 35 हजार सक्रिय उपयोगकर्ता हैं जो अपराधमुक्त समाज की स्थापना में अपना योगदान दे रहे है। उल्लेखनीय है कि इस एप्लीकेशन को राष्ट्रीय स्तर पर डिजिटल इंडिया अवार्ड एवं स्मार्ट पुलिसिंग अवार्ड से सम्मानित किया गया है। यहां यह भी उल्लेखनीय है कि इसे शीघ्र ही पूरे देश में लागू किये जाने की दिशा में भारत सरकार विचार कर रही है। अभी सिटीजन काॅप मोबाईल एप्लीकेशन डाउलोड करने के लिए यहां क्लिक करिए - एच.पी. जोशी

लोकप्रिय ब्लाॅग संदेश (Popular Information)

यह वेबसाइट /ब्लॉग भारतीय संविधान की अनुच्छेद १९ (१) क - अभिव्यक्ति की आजादी के तहत सोशल मीडिया के रूप में तैयार की गयी है।
यह वेबसाईड एक ब्लाॅग है, इसे समाचार आधारित वेबपोर्टल न समझें।
इस ब्लाॅग में कोई भी लेखक/व्यक्ति अपनी मौलिक पोस्ट प्रकाशित करवा सकता है। इस ब्लाॅग के माध्यम से हम शैक्षणिक, समाजिक और धार्मिक जागरूकता लाने तथा वैज्ञानिक सोच विकसित करने के लिए प्रयासरत् हैं। लेखनीय और संपादकीय त्रूटियों के लिए मै क्षमाप्रार्थी हूं। - श्रीमती विधि हुलेश्वर जोशी

Recent

माह में सबसे अधिक बार पढ़ा गया लेख