वाट्सएप्प ग्रुप MyPolice (Help! Me) में जूडने के लिए क्लिक करें ......

वाट्सएप्प ग्रुप MyPolice (Help! Me)  मायपुलिस (हेल्प-मी) में जूडने के लिए लिंक में क्लिक करें 

छत्तीसगढ़ के आम नागरिकों को पुलिस मार्गदर्शन प्रदान करने, एवं छत्तीसगढ़ पुलिस के मोबाईल एप्प ‘‘सिटीजन काॅप’’ के प्रचार प्रसार हेतु श्री एचपी जोशी द्वारा वाट्सएप्प ग्रुप MyPolice (Help! Me)  मायपुलिस (हेल्प-मी)  बनाया गया है। इस ग्रुप में जूडने के लिए नीचे दिये गये वाट्सएप्प ग्रुप के नाम पर क्लिक करें। MyPolice (Help! Me)  मायपुलिस (हेल्प-मी)  में क्लिक करते ही स्वतः ग्रुप में ज्वाईन हो जाएंगे।



ग्रुप में केवल, एडमिन ही पोस्ट कर सकेगा। यदि सदस्यों के आग्रह पर सभी सदस्यों के लिए ग्रुप ओपन किया जाता है, ऐसी स्थिति में ग्रुप में किसी भी प्रकार से समाजिक, राजनैतिक, धार्मिक पोस्ट स्वीकार्य नही है।
शुभकामना संदेश एवं अन्य संदेश शेयर नही किया जाएगा।
सदस्य अपनी समस्या का निजी तौर पर एडमिन से चैट के माध्यम से अवगत करायेंगे, जिसके लिए अपेक्षित उपाय बताया जाएगा।
ग्रुप में अभद्र भाषा का प्रयोग स्वीकार्य नही होगा।
संविधान, कानून एवं आईटी एक्ट, का उल्लंघन करने पर पुलिस कार्यवाही की जाएगी।
आपसे आग्रह है कि अपने आसपास हो रहे अपराध की सूचना, व्यक्तिगत रूप से एडमिन को ही दें। यदि सूचना से संबंधित प्रमाण हो, तो बेहतर होगा।
आपसे आग्रह है कि केवल एक ही ग्रुप में जूडें।


Please Share this Link 
Share:

प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कैसे करें?


यह वेबसाइट /ब्लॉग भारतीय संविधान की अनुच्छेद १९ (१) क - अभिव्यक्ति की आजादी के तहत सोशल मीडिया के रूप में तैयार की गयी है।
यह वेबसाईड एक ब्लाॅग है, इसे समाचार आधारित वेबपोर्टल न समझें।
इस ब्लाॅग में कोई भी लेखक/व्यक्ति अपनी मौलिक पोस्ट प्रकाशित करवा सकता है। इस ब्लाॅग के माध्यम से हम शैक्षणिक, समाजिक और धार्मिक जागरूकता लाने तथा वैज्ञानिक सोच विकसित करने के लिए प्रयासरत् हैं। लेखनीय और संपादकीय त्रूटियों के लिए मै क्षमाप्रार्थी हूं। - श्रीमती विधि हुलेश्वर जोशी

सबसे अधिक बार पढ़ा गया लेख