Tuesday, February 23, 2021

अबूझमाड़ महोत्सव - तृतीय अंतरराष्ट्रीय माड़ मैराथन 2021 के बारे में जानें रोचक और विस्तृत जानकारी

अबूझमाड़ महोत्सव - तृतीय अंतरराष्ट्रीय माड़ मैराथन 2021 के बारे में जानें रोचक और विस्तृत जानकारी:

तत्कालीन पुलिस अधीक्षक श्री जितेन्द्र शुक्ला के मंशानुरूप जिला प्रशासन, पुलिस प्रशासन और भिलाई इस्पात संयंत्र के सौजन्य से ‘‘रन फार पीस, रन फार अबुझमाड़’’ थीम पर प्रथम मैराथन दिनांक 10 जनवरी 2019 को आयोजित किया गया। पहली मैराथन रन फार पीस, रन फार अबुझमाड हाप मैराथन, पुरूष वर्ग के लिए 21 कि.मी और महिला वर्ग के लिए 05 कि.मी का आयोजन कराया गया। इस मैराथन में पुरूष वर्ग में प्रथम स्थान पर मोसेज (केनिया), और द्वितीय स्थान पर हरसिंह (उत्तराखण्ड) रहे जबकि महिला वर्ग में डिंपल सिंह (लखनउ) के साथ प्रथम और श्यामलसिंह (पश्चिम बंगाल) द्वितीय स्थान में रही। मैराथन में भाग लेने वाले दोनो ही वर्ग के प्रतिभागी प्रथम पांच पुरूष और प्रथम पांच महिला को क्रमशः एक लाख, पचास हजार, तीस हजार, बीस हजार और दस हजार का ईनाम दिया गया था। इस आयोजन के सफलता के फलस्वरूप आम नागरिकों, जनप्रतिनिधियों के अनुरोध पर कलेक्टर श्री पी.एस. एल्मा एवं पुलिस अधीक्षक श्री मोहित गर्ग द्वारा इसे आगे बढ़ाते हुए निरंतर आयोजित करने का संकल्प लिया जाकर मैराथन का द्वितीय आयोजन पुनः जिला प्रशासन, पुलिस प्रशासन और भिलाई इस्पात संयंत्र के सौजन्य से दिनांक 08 फरवरी 2020 को रन फार पीस, रन फार अबुझमाड हाप मैराथन, 21 कि.मी का आयोजन कराया गया। जिसमें 18 राज्यों के लगभग 11292 धावकों ने पंजीयन कराया, वहीं 09 विदेशी धावको ने भी इस मैराथन में भाग लिया, ये सभी प्रतिभागी केन्या देश के निवासी थे। इस मैराथन में पुरूष वर्ग में प्रथम स्थान पर शंकर मानथापा (मेघालय, 1घण्टा 2मिनट), और द्वितीय स्थान पर साइमन (केन्या, 1घण्टा 5मिनट) रहे जबकि महिला वर्ग में एलीसा (केन्या, 1घण्टा 11मिनट) के साथ प्रथम और डिम्पल (लखनउ) द्वितीय स्थान में रही।

मैराथन ने अबुझमाड़ को वैश्विक स्तर पर पहचान दिलाने में कारगर साबित हुआ है वहीं नक्सल प्रभावित क्षेत्रों के लोग पुलिस और प्रशासन के कार्यशैली से परिचित होकर पुलिस प्रशासन से जूडकर नक्सलवाद के खिलाफ बौद्धिक रूप से खडा हुए हैं। फलस्वरूप पुलिस अधीक्षक श्री मोहित गर्ग के प्रस्ताव पर अमल करते हुए कलेक्टर श्री धर्मेश कुमार साहू द्वारा मैराथन के तीसरे आयोजन को ‘‘अबुझमाड़ महोत्सव - तृतीय अंतर्राष्ट्रीय माड़ मैराथन - 2021’’ के रूप में आयोजित करने की सहमति दी गई। महिनों चलने वाले इस अबुझमाड़ महोत्सव के माध्यम से मावा नारायणपुर, युवा नारायणपुर के थीम पर अंदरूनी और पहुंच विहिन क्षेत्र के आम नागरिकों और युवाओं को जोडकर उन्हें सरकारी कार्यालयों का भ्रमण कराते हुए सरकार के कार्यशैली को बताया जा रहा है, पुलिस अधीक्षक श्री मोहित गर्ग के निर्देशानुसार जिला नारायणपुर के समस्त पुलिस थाना और केन्द्रीय सशस्त्र बल के कैम्पों में 5-5 किलोमीटर के दौड़ आयोजित कर नक्सल क्षेत्र के नागरिकों को खासकर युवा और छात्रों को शासन से जोडने का प्रयास किया जा रहा है। इस दौड़ में शामिल विजेता धावकों को नगद ईनाम, सर्टिफिकेट और खेल सामाग्री दिये जा रहे हैं वहीं दौड़ मे शामिल होने वाले अन्य धावकों और लोगों के लिए चाय, नास्ता भी कराया जा रहा है, इच्छूक लोगों का तृतीय अंतर्राष्ट्रीय माड़ मैराथन - 2021 के लिए निःशूल्क आनलाईन पंजीयन किया जा रहा है ताकि उन्हें देश-विदेश के ख्याति प्राप्त धावकों से प्रतियोगिता करने का अवसर प्राप्त हो सके। बस्तर रेंज के पुलिस महानिरीक्षक श्री सुंदरराज पी. द्वारा आयोजन से आम लोगों के मन में पुलिस प्रशासन के प्रति बने सकारात्मक छवि को देखते हुए बस्तर संभाग के समूचे पुलिस थाना एवं कैम्पों में इसके आयोजन हेतु रेंज के समस्त पुलिस अधीक्षकों को निर्देशित किया गया है।

‘‘अबुझमाड़ महोत्सव - तृतीय अंतर्राष्ट्रीय माड़ मैराथन - 2021’’ के तहत् हर दिन लगभग 10 गांव के युवाओं, छात्रों और लोगों को जिला मुख्यालय बुलाकर उन्हें उनके मानव अधिकारों और आवश्यक कार्यों के निपटारा के लिए जागरूक करने का प्रयास किया जा रहा है। अबुझमाड महोत्सव के अंतर्गत दिनांक 12 फरवरी 2021 को जिला मुख्यालय में पेंटिग प्रतियोगिता का आयोजन किया गया, जिसमें लगभग 250 प्रतिभागियों ने भाग लेकर दीवारों में आदिवासी जनजीवन, माड़ मैराथन और स्वच्छ भारत थीम पर अपनी पेंटिग बनाकर मिशाल कायम किया वहीं दिनांक 14 फरवरी 2021 को 5 किलोमीटर प्रमोशनल सायकल रैली का आयोजन किया गया था, जिसमें जिला मुख्यालय सहित बस्तर के लगभग 500 से अधिक लोग शामिल हुए, दिनांक 14.02.2021 को आईजी बस्तर श्री सुंदरराज पी. द्वारा अबूझमाड़ महोत्सव - तृतीय अंतरराष्ट्रीय माड़ मैराथन 2021 के धावकों और वालेंटियर्स के लिए टी-शर्ट व मेडल का विमोचन किया गया। इसी क्रम में दिनांक 20 फरवरी 2021 को स्थानीय आडिटोरियम में मावा नारायणपुर, युवा नारायणपुर के तहत् विभिन्न प्रकार के सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन किया गया, जिसमें सैकड़ों प्रतिभागी और आम नागरिक शामिल हुए। दिनांक 21 फरवरी 2021 को बस्तर रेंज के समस्त जिलों में श्री सुंदरराज पी., पुलिस महानिरीक्षक, बस्तर रेंज बस्तर के निर्देशानुसार अबूझमाड़ पीस मैराथन 2021 का प्रमोशन करने के लिए दौड़ कराया गया जिसमें संभाग के जिलों से लाखों अधिकारी/कर्मचारी, आम नागरिक, जनप्रतिनिधि, युवा और छात्र शामिल हुए।

यह मैराथन अबूझमाड़ में शांति स्थापित करने के उद्देश्य से आयोजित की जाती है। वर्ष-2021 में शासकीय हाई स्कूल मैदान, नारायणपुर से बासिंग तक 21 किलोमीटर (हाफ मैराथन) का आयोजन किया जा रहा है। यह स्थान प्राकृतिक सुंदरता, वन, झरना और विशालकाय पर्वत श्रृंखलाओं से ओतप्रोत है। इस मैराथन का सबसे खास बात ये है कि 21 किमी के इस मैराथन में लगभग 21 प्वाईट बनाया गया है जहां पर सेल्फी प्वाईट, साउण्ड बाक्स, डीजे, गेट और रिफ्रेसमेंट प्वाइटंस बनाया जा रहा है जहां पर फुड, चाकलेट, नीबू पानी, ग्लुकोज, जूश, केला, इत्यादि की व्यवस्था होगी। इसके अलावा वाशरूम और रिलैक्सप्वाईट सहित FIRST AID और चिकित्सकों की भी व्यवस्था उपलब्ध कराया जाएगा।

उल्लेखनीय है कि यह मैराथन बस्तर का एकलौता और बड़ा अंतर्राष्ट्रीय मैराथन है जो अबुझमाड़ और बस्तर को विश्वस्तर पर ख्याति दिलाने में कारगर साबित हो रहा है, इस अंतर्राष्ट्रीय मैराथन में देश के प्रसिद्ध हस्तियां भी शामिल हो रहे हैं, विजयी प्रतिभागियों को माननीय मुख्यमंत्री श्री भूपेश बघेल द्वारा पुरस्कृत किया जाएगा। इस मैराथन में महिला और पुरूष दोनो वर्ग के लिए पृथक-पृथक 05 पुरस्कार क्रमशः 1 लाख 21 हजार रूपये, 61 हजार रूपये, 31 हजार रूपये, 21 हजार रूपये और 11 हजार रूपये रखा गया है। मैराथन में शामिल होने वाले धावकों/प्रतिभागियों के लिए जिला प्रशासन और पुलिस प्रशासन, नारायणपुर द्वारा ठहरने और भोजन की निःशूल्क व्यवस्था उपलब्ध करायी जा रही है। यहां यह भी उल्लेखनीय है कि यह मैराथन जिला प्रशासन, पुलिस प्रशासन और स्थानीय प्रशासन द्वारा सामाजिक संगठनों, पंजीकृत/गैर-पंजीकृत समितियों, पत्रकार साथियों, व्यापारिक संस्थानों और गणमान्य नागरिकों के सहयोग सक्रिय भागीदारी से आयोजित बस्तर का सबसे बड़ा मैराथन है जो विगत 03 वर्षों से हर साल पूरे उत्साह के साथ नारायणपुर में आयोजित किया जा रहा है। विगत वर्षों में हर साल 5 हजार से अधिक लोगों ने इस मैराथन में शामिल होकर आयोजन को सफल बनाने में अपना अहम योगदान दिया है, जिसमें देश-विदेश के धावक भी शामिल हैं।

--
Share:

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कैसे करें?

यह वेबसाइट /ब्लॉग भारतीय संविधान की अनुच्छेद १९ (१) क - अभिव्यक्ति की आजादी के तहत सोशल मीडिया के रूप में तैयार की गयी है।
यह वेबसाईड एक ब्लाॅग है, इसे समाचार आधारित वेबपोर्टल न समझें।
इस ब्लाॅग में कोई भी लेखक/व्यक्ति अपनी मौलिक पोस्ट प्रकाशित करवा सकता है। इस ब्लाॅग के माध्यम से हम शैक्षणिक, समाजिक और धार्मिक जागरूकता लाने तथा वैज्ञानिक सोच विकसित करने के लिए प्रयासरत् हैं। लेखनीय और संपादकीय त्रूटियों के लिए मै क्षमाप्रार्थी हूं। - श्रीमती विधि हुलेश्वर जोशी

सबसे अधिक बार पढ़ा गया लेख