नारायणपुर पुलिस की अभिनव पहलः रक्षित केन्द्र में 01 अक्टूबर से उप निरीक्षक और आरक्षक भर्ती के लिये निःशूल्क कोचिंग (फिजिकल अभ्यास और लिखित परीक्षा की तैयारी) प्रारंभ

नारायणपुर पुलिस की अभिनव पहलः रक्षित केन्द्र में 01 अक्टूबर से उप निरीक्षक और आरक्षक भर्ती के लिये निःशूल्क कोचिंग (फिजिकल  अभ्यास और लिखित परीक्षा की तैयारी) प्रारंभ 

पुलिस अधीक्षक श्री यू. उदय किरण IPS के निर्देशानुसार एवं अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्री नीरज चन्द्राकर के मार्गदर्शन में 01 अक्टूबर 2021 से रक्षित केन्द्र, नारायणपुर में उप निरीक्षक और आरक्षक भर्ती के लिये निःशूल्क कोचिंग (फिजिकल अभ्यास और लिखित परीक्षा की तैयारी) प्रारंभ किया जा रहा है। इस प्रशिक्षण में जिला मुख्यालय नारायणपुर एवं आसपास के युवक, युवती शामिल होकर अपना स्कील बढ़ा सकते हैं ताकि भर्ती में उप निरीक्षक संवर्ग और आरक्षक भर्ती में नियोजित होने में आसानी हो। कोचिंग में शामिल होने वाले युवाओं को पुलिस अधिकारियों द्वारा प्रशिक्षण एवं एक्सपर्ट सुझाव दिये जायेंगे। 

ज्ञातव्य हो कि छत्तीसगढ़ पुलिस द्वारा सूबेदार, उप निरीक्षक संवर्ग तथा प्लाटून कमाण्डर के 975 पदों पर भर्ती के लिये विज्ञापन जारी की गई है, जिसके लिये छत्तीसगढ़ के मूल निवासी स्नातक अभ्यार्थी दिनांक 01/10/2021 से 31/10/2021 तक फार्म से आनलाईन फार्म भर सकते हैं। छत्तीसगढ़ पुलिस द्वारा बस्तर संभाग के जिलों के लिये आरक्षक संवर्ग के 2800 पदों पर शीघ्र भर्ती किया जाना प्रस्तावित है, जिसमें स्थानीय युवाओं को अवसर मिलेगा।


अधिक जानकारी के लिए निम्नांकित नंबर्स में संपर्क करें.........
श्री अनुज कुमार, एस.डी.ओ.पी., नारायणपुर

श्री दीपक साव, रक्षित निरीक्षक - 9479194589
श्री मालिक राम, निरीक्षक - 7647007767
श्री आकाश मशीह, उप निरीक्षक - 7771061699
श्री नीलकमल दिवाकर, सहायक उप निरीक्षक  - 9425546429
श्री ईश्वरी दिवाकर - 7879942459
श्री हुलेश्वर जोशी - 9826164156
श्री गणेश यादव - 9479151292
Share:

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment


प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कैसे करें?


यह वेबसाइट /ब्लॉग भारतीय संविधान की अनुच्छेद १९ (१) क - अभिव्यक्ति की आजादी के तहत सोशल मीडिया के रूप में तैयार की गयी है।
यह वेबसाईड एक ब्लाॅग है, इसे समाचार आधारित वेबपोर्टल न समझें।
इस ब्लाॅग में कोई भी लेखक/व्यक्ति अपनी मौलिक पोस्ट प्रकाशित करवा सकता है। इस ब्लाॅग के माध्यम से हम शैक्षणिक, समाजिक और धार्मिक जागरूकता लाने तथा वैज्ञानिक सोच विकसित करने के लिए प्रयासरत् हैं। लेखनीय और संपादकीय त्रूटियों के लिए मै क्षमाप्रार्थी हूं। - श्रीमती विधि हुलेश्वर जोशी

सबसे अधिक बार पढ़ा गया लेख