Thursday, March 18, 2021

अंतर्राष्ट्रीय महिला सप्ताह के दौरान नव संचार द्वारा किये गये सराहनीय कार्य.......

छत्तीसगढ़ पुलिस के निर्देशानुसार 
जिला पुलिस बल नारायणपुर और सामाजिक संस्था करूणा फाउण्डेशन के सहयोग से अंतर्राष्ट्रीय महिला सप्ताह के दौरान नव संचार फाउण्डेशन द्वारा तिथिवार निम्नानुसार सराहनीय कार्य किया गया है:- 

दिनांक : 08.03.2021, स्थान- गुडरीपारा नारायणपुर
1- मेडिकल कैम्प: आईटीबीपी के महिला चिकित्सकों के सहयोग से कार्यक्रम स्थल में मेडिकल कैम्प लगाया गया, जिसमें लगभग 85 महिलाओं और बच्चों ने अपना उपचार कराया।
2- महिला जागरूकता-सह-सम्मान समारोह: सामाजिक संस्था नव संचार फाउण्डेशन एवं करूणा फाउण्डेशन के सहयोग से महिला जागरूकता-सह-सम्मान कार्यक्रम आयोजित किया गया, जिसमें लगभग 200 से अधिक महिलाएं और बालिका उपस्थित रहीं। जागरूकता के अंतर्गत घरेलू हिंसा, छेड़खानी, लैगिंक उत्पीड़न, गुड टच और बेड टच की जानकारी, साईबर सुरक्षा, पोक्सो एक्ट, स्वच्छता, मानव तस्करी, कैरियर कांउसलिंग, टोनही निवारण जैसे महत्वपूर्ण मुद्दों पर जागरूकता लाने का प्रयास किया गया। कार्यक्रम के दौरान महिलाओं को आर्थिक रूप से आत्मनिर्भर होने और खासकर बेटियों को उच्च शिक्षा दिलाने पर जोर दिया गया। जागरूकता कार्यक्रम के दौरान कार्यक्रम में उपस्थित महिलाओं को सम्मानित भी किया गया। इसके पश्चात् जिला नारायणपुर की ऐसी महिलाएं जो स्वयं आर्थिक रूप से आत्म निर्भर होकर अपना व्यवसाय, जैसे सब्जी और फल बेचना, इेला अथवा दूकान का संचालन करने का काम कर रही हैं उन्हें सम्मान स्वरूप साड़ी और श्रीफल देकर सम्मानित किया गया।

दिनांक : 09.03.2021, स्थान- थाना छोटेडोंगर
1- महिला जागरूकता-सह-सम्मान समारोह: सामाजिक संस्था नव संचार फाउण्डेशन एवं करूणा फाउण्डेशन के सहयोग से महिला जागरूकता-सह-सम्मान कार्यक्रम आयोजित किया गया, जिसमें लगभग 150 के करीबन महिला और बालिकाएं उपस्थित रहीं। जागरूकता के अंतर्गत घरेलू हिंसा, छेड़खानी, लैगिंक उत्पीड़न, गुड टच और बेड टच की जानकारी साईबर सुरक्षा, पोक्सो एक्ट, स्वच्छता, मानव तस्करी, कैरियर कांउसलिंग, टोनही निवारण जैसे महत्वपूर्ण मुद्दों पर जागरूकता लाने का प्रयास किया गया। कार्यक्रम के दौरान महिलाओं को आर्थिक रूप से आत्मनिर्भर होने और खासकर बेटियों को उच्च शिक्षा दिलाने पर जोर दिया गया। जागरूकता कार्यक्रम के दौरान कार्यक्रम में उपस्थित महिलाओं को सम्मानित भी किया गया।
2- एक दिन के पुलिस अधिकारी: कक्षा 10 वीं की छात्रा को निर्देशानुसार 01 दिन के लिए सांकेतिक रूप से निरीक्षक बनाकर, थाना छोटेडोंगर का प्रभार दिया जाकर पुलिस के कार्यशैली से अवगत कराते हुए बेटियों को भी पुलिस अधिकारी बनकर अपराध मुक्त समाज की पुनर्स्थापना करने के लिए प्रेरित किया गया।

दिनांक : 10.03.2021, स्थान- नारायणपुर के चिन्हांकित 07 कन्या स्कूल 
विभिन्न प्रतियोगिताओं का आयोजन: जिला मुख्यालय नारायणपुर के चिन्हांकित 07 बालिका विद्यालयों में चित्राकला प्रतियोगिता, निबंध प्रतियोगिता, रंगोली प्रतियोगिता, पारम्परिक व्यजंन प्रतियोगिता (व्यजंन घर बना हुआ) कराया गया। जिसमें संबंधित स्कूलों की छात्राएं, शिक्षिका एवं आसपास की महिलाएं सम्मिलित हुई।

दिनांक : 11.03.2021, स्थान- थाना बेनूर
1- महिला जागरूकता-सह-सम्मान समारोह: सामाजिक संस्था नव संचार फाउण्डेशन एवं करूणा फाउण्डेशन के सहयोग से महिला जागरूकता-सह-सम्मान कार्यक्रम आयोजित किया गया, जिसमें लगभग 200 के करीबन महिला और बालिकाएं उपस्थित रहीं। जागरूकता के अंतर्गत घरेलू हिंसा, छेड़खानी, लैगिंक उत्पीड़न, गुड टच और बेड टच की जानकारी साईबर सुरक्षा, पोक्सो एक्ट, स्वच्छता, मानव तस्करी, कैरियर कांउसलिंग, टोनही निवारण जैसे महत्वपूर्ण मुद्दों पर जागरूकता लाने का प्रयास किया गया। कार्यक्रम के दौरान महिलाओं को आर्थिक रूप से आत्मनिर्भर होने और खासकर बेटियों को उच्च शिक्षा दिलाने पर जोर दिया गया। जागरूकता कार्यक्रम के दौरान कार्यक्रम में उपस्थित महिलाओं को सम्मानित भी किया गया।
2- एक दिन के पुलिस अधिकारी: कक्षा 10 वीं की छात्रा को निर्देशानुसार 01 दिन के लिए सांकेतिक रूप से निरीक्षक बनाकर, थाना बेनूर का प्रभार दिया जाकर पुलिस के कार्यशैली से अवगत कराते हुए बेटियों को भी पुलिस अधिकारी बनकर अपराध मुक्त समाज की पुनर्स्थापना करने के लिए प्रेरित किया गया।

दिनांक : 12.03.2021, स्थान- मावली मेला स्थल, नारायणपुर
नाटक ‘‘दसरी’’ का मंचन: महिला सशक्तिकरण के सभी पहलुओं जैसे कन्या भ्रण हत्या, बाल विवाह, बेटियों की उपेक्षा और उनके मानव अधिकारों की हनन तथा बेटा की लालसा और बेटा को अनावश्यक छूट देने वाली मानसिकता पर आधारित नाटक ‘‘दसरी’’ का मंचन किया इस नाटक का मंचन स्कूली छात्रों और पुलिस बल के जवानों द्वारा किया गया है। नाटक ‘‘दसरी’’ की मूल अवधारणा अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्री नीरज चन्द्राकर एवं सुश्री आरती गर्ग आधारित है, इस नाटक के स्क्रिप्ट और डाॅयलाॅग श्री हुलेश्वर जोशी द्वारा लिखा गया है। चूंकि इस नाटक का मंचन जिला नारायणपुर के सुप्रसिद्ध मावली मेला स्थल के मंच में किया गया, नाटक को लगभग 2000 से अधिक लोगों ने देखा और इसकी सराहना भी किया।

दिनांक : 13.03.2021, स्थान- पुलिस अधीक्षक कार्यालय, नारायणपुर
महिला जागरूकता सायकल रैली: सुपोषित महिला-खुशहाल परिवार’’ के थीम पर पुलिस अधीक्षक कार्यालय से महिला सायकल रैली का आयोजन किया गया, जिसमें जिला नारायणपुर की महिला जनप्रतिनिधि, महिला अधिकारी, शिक्षिका, छात्राएं सहित लगभग 250 महिला सम्मिलित होकर महिला जागरूकता को सफल बनाने में अपना योगदान दिया।

दिनांक : 14.03.2021, स्थान- आडिटोरियम, नारायणपुर
अंतरराष्ट्रीय महिला सप्ताह का समापन समारोह: दिनांक 14.03.2021 को आडिटोरियम, नारायणपुर में अंतरराष्ट्रीय महिला सप्ताह का समापन समारोह आयोजित किया गया, कार्यक्रम के समापन समारोह में माननीय सांसद श्री दीपक बैज, माननीय विधायक श्री चन्दन कश्यप, कलेक्टर श्री धर्मेश कुमार साहू, पुलिस अधीक्षक श्री मोहित गर्ग, सीईओ जिला पंचायत श्री राहूल देव, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्री नीरज चन्द्राकर, डीएसपी उन्नति ठाकूर, डीएसपी अभिवन उपाध्याय और रक्षित निरीक्षक श्री दीपक साव सहित नव संचार फाउण्डेशन और करूणा फाउण्डेशन के पदाधिकारियों सहित सैकडों जन प्रतिनिधि, पुलिस अधिकारी, शिक्षक, छात्र-छात्राएं और आम नागरिक उपस्थित रहे। समापन समारोह में स्कूली बच्चों द्वारा सांस्कृतिक कार्यक्रम की प्रस्तुति दी गई। सांस्कृतिक कार्यक्रमों के समापन उपरांत अंतरराष्ट्रीय महिला सप्ताह के दौरान दिनांक 08 मार्च 2021 से 14 मार्च 2021 तक महिला जागरूकता कार्यक्रम में सक्रिय भागीदारी निभाने वाले सामाजिक कार्यकर्ताओं, नारायणपुर की सशक्त महिलाओं, शहीद परिवार की महिलाओं और नाटक ‘‘दसरी’’ के मंचन करने वाले नन्हें छात्र कलाकारों व पुलिस अधिकारियों तथा विभिन्न कैटेगरी जैसे रंगोली प्रतियोगिता, पेंटिग प्रतियोगिता, पकवान प्रतियोगिता, नृत्य प्रतियोगिता, निबंध लेखन प्रतियोगिता में भाग लेने वाले विजेता प्रतिभिागियों को सम्मानित किया गया।
Share:

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कैसे करें?

यह वेबसाइट /ब्लॉग भारतीय संविधान की अनुच्छेद १९ (१) क - अभिव्यक्ति की आजादी के तहत सोशल मीडिया के रूप में तैयार की गयी है।
यह वेबसाईड एक ब्लाॅग है, इसे समाचार आधारित वेबपोर्टल न समझें।
इस ब्लाॅग में कोई भी लेखक/व्यक्ति अपनी मौलिक पोस्ट प्रकाशित करवा सकता है। इस ब्लाॅग के माध्यम से हम शैक्षणिक, समाजिक और धार्मिक जागरूकता लाने तथा वैज्ञानिक सोच विकसित करने के लिए प्रयासरत् हैं। लेखनीय और संपादकीय त्रूटियों के लिए मै क्षमाप्रार्थी हूं। - श्रीमती विधि हुलेश्वर जोशी

सबसे अधिक बार पढ़ा गया लेख