Monday, March 29, 2021

"हुलेश्वरोदुष्टताय दहनम" नव दर्शन पर आधारित दुनिया की सबसे अच्छी होलिका दहन... एक बार जरूर देखें


"हुलेश्वरोदुष्टताय दहनम" नव दर्शन पर आधारित दुनिया की सबसे अच्छी होलिका दहन...

नवीन जीवन दर्शन पर आधारित, होलिका दहन का विकल्प प्रस्तुत करते हुए हुलेश्वरोदुष्टताय दहनम की शुरूआत हो चूकी है, यदि आप भी अपने भीतर के स्लीपिंग क्रिमिनल्स को समाप्त करने के पक्षधर हैं और सही मायने में भक्त प्रहलाद के साथ न्याय करना चाहते हैं तो आप भी इसे आगे बढ़ाकर अपने जीवन शैली को बेहतर बनाते हुए धरती को स्वर्ग बनाकर सतयुग की शुरूआत कर सकते हैं।  आदरणीय पाठकगण इसके माध्यम से आपसे निवेदन है कि आप गुरू घासीदास बाबा के संदेश ‘‘पर स्त्री को माता-बहन मानो’’ और ‘‘नारी का समान करो’’ का पालन करें।

हुलेश्वरोदुष्टताय दहनम की शुरूआत क्यों? 
"हुलेश्वरोदुष्टताय दहनम की शुरूआत करने का सबसे प्रमुख कारण यह है कि मुझमें भी सैकड़ों स्लीपिंग क्रिमिनल्स हैं जो मुझे होलिका से अधिक दुष्ट बनाती है। सबसे खास बात तो यह है कि होलिका के दहन के साथ ही उन्हें हजारों साल पहले ही सजा मिल चूका है जबकि मेरे भीतर के वैचारिक अपराधी और हत्यारे को कभी सजा ही नहीं मिल पा रही है इसलिए मैने हुलेश्वरोदुष्टताय दहनम की शुरूआत की है।" हुलेश्वर जोशी, नवा रायपुर, छत्तीसगढ़

हुलेश्वरोदुष्टताय दहनम का अंश





Share:

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment

प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कैसे करें?

यह वेबसाइट /ब्लॉग भारतीय संविधान की अनुच्छेद १९ (१) क - अभिव्यक्ति की आजादी के तहत सोशल मीडिया के रूप में तैयार की गयी है।
यह वेबसाईड एक ब्लाॅग है, इसे समाचार आधारित वेबपोर्टल न समझें।
इस ब्लाॅग में कोई भी लेखक/व्यक्ति अपनी मौलिक पोस्ट प्रकाशित करवा सकता है। इस ब्लाॅग के माध्यम से हम शैक्षणिक, समाजिक और धार्मिक जागरूकता लाने तथा वैज्ञानिक सोच विकसित करने के लिए प्रयासरत् हैं। लेखनीय और संपादकीय त्रूटियों के लिए मै क्षमाप्रार्थी हूं। - श्रीमती विधि हुलेश्वर जोशी

सबसे अधिक बार पढ़ा गया लेख