पोदला उरस्कना “पौधारोपण” अभियान – 2022 का समापन; शहीद श्री जयलाल उईके के स्मारक और कट्टापाल स्कूल में आईपीएस सदानंद कुमार ने जवानों के साथ मिलकर किया पौधारोपण


पोदला उरस्कना “पौधारोपण” अभियान – 2022 का समापन; शहीद श्री जयलाल उईके के स्मारक और कट्टापाल स्कूल में आईपीएस सदानंद कुमार ने जवानों के साथ मिलकर किया पौधारोपण

पोदला उरस्कना “पौधारोपण” अभियान के तहत नारायणपुर पुलिस के जवानों नें शहीद परिवारों और नक्सल पीड़ित परिवारों के साथ मिलकर रोपे फलदार पौधे

आईपीएस श्री सदानंद कुमार, पुलिस अधीक्षक नारायणपुर ने शहीद श्री जयलाल उईके के स्मारक और उनके गृह ग्राम स्थित स्कूल परिसर में आज दिनाँक 09-08-2022 को शहीद परिवार, नक्सल पीड़ित परिवार और जवानों के साथ मिलकर पौधारोपण करते हुए पोदला उरस्कना “पौधारोपण” अभियान – 2022 का समापन किया। यहाँ यह भी उल्लेखनीय है कि आईपीएस श्री सुंदरराज पी. (पुलिस महानिरीक्षक, बस्तर रेंज) के मार्गदर्शन में आईपीएस श्री सदानंद कुमार (पुलिस अधीक्षक, नारायणपुर) के निर्देशानुसार पोदला उरस्कना “पौधारोपण” अभियान-2022 के तहत जिला नारायणपुर के समस्त थाना, कैम्प और पुलिस कार्यालयों में दिनाँक 28-07-2022 से दिनाँक 09-08-2022 तक आवला, आम, अमरूद, नीबू, कटहल, मुनगा, काजू और करंज इत्यादि के लगभग 3000 पौधे रोपे गए हैं।


शहीद श्री जयलाल उईके दिनाँक 23-03-2021 को देश की सुरक्षा और शांति के लिए कैम्प कडेनार एवं मदोड़ा के मध्य जंगल में नक्सलियों से लड़ते हुए वीरगति को प्राप्त हुए थे। पौधारोपण के पूर्व आईपीएस श्री सदानंद कुमार ने शहीद परिवार से मिलकर उनका कुशलक्षेम जाना और शहीद श्री जयलाल उईके के योगदान की प्रशंसा करते हुए शहीद परिवारों को आश्वासन दिया कि नारायणपुर पुलिस शहीद परिवारों के हर दुख सुख में उनके साथ खड़ा है किसी भी प्रकार के जरूरत में शहीद परिवार नारायणपुर पुलिस से सहयोग प्राप्त कर सकती है।

शहीद श्री जयलाल उईके के स्मारक और उनके गृह ग्राम स्थित स्कूल में पौधारोपण के साथ ही नारायणपुर पुलिस द्वारा शांतिनगर पुलिस कैम्प में शहीद परिवारों और नक्सल पीड़ित परिवारों के साथ मिलकर लगभग 100 फलदार पौधे रोपे हैं।


पौधारोपण के दौरान डीएसपी श्री विनय साहू, डीएसपी श्री लौकेश बंसल और आरआई श्री दीपक साव सहित शहीद श्री जयलाल उइके के परिवार और जिले के शहीद परिवार, नक्सल पीड़ित परिवार, डीआरजी और जिला बल के जवान सहित सैकड़ों ग्रामीणजन उपस्थित रहे।

Related Post 

Share:

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment



सबसे अधिक बार पढ़ा गया लेख


यह वेबसाइट /ब्लॉग भारतीय संविधान की अनुच्छेद १९ (१) क - अभिव्यक्ति की आजादी के तहत सोशल मीडिया के रूप में तैयार की गयी है।
यह वेबसाईड एक ब्लाॅग है, इसे समाचार आधारित वेबपोर्टल न समझें।
इस ब्लाॅग में कोई भी लेखक/कवि/व्यक्ति अपनी मौलिक रचना और किताब निःशुल्क प्रकाशित करवा सकता है। इस ब्लाॅग के माध्यम से हम शैक्षणिक, समाजिक और धार्मिक जागरूकता लाने तथा वैज्ञानिक सोच विकसित करने के लिए प्रयासरत् हैं। लेखनीय और संपादकीय त्रूटियों के लिए मै क्षमाप्रार्थी हूं। - श्रीमती विधि हुलेश्वर जोशी

प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कैसे करें?

Blog Archive