एसपी ने दी विदाई; उप निरीक्षक (एमटी) श्री जशबीर सिंह और सहायक उप निरीक्षक श्री प्रफुल्ल मरकाम के कर्तव्यनिष्ठा का सम्मान करते हुए उन्हें स्वस्थ और दीर्घायु जीवन की शुभकामनाएँ दी


एसपी ने दी विदाई; उप निरीक्षक (एमटी) श्री जशबीर सिंह और सहायक उप निरीक्षक श्री प्रफुल्ल मरकाम के कर्तव्यनिष्ठा का सम्मान करते हुए उन्हें स्वस्थ और दीर्घायु जीवन की शुभकामनाएँ दी।

आज दिनाँक 30/04/2022 को पुलिस अधीक्षक श्री सदानंद कुमार (आईपीएस) ने जिला नारायणपुर में अपनी सेवा पूर्ण कर सेवानिवृत्त होने वाले दो पुलिस अधिकारी उप निरीक्षक (एमटी) श्री जशबीर सिंह एवं सहायक उप निरीक्षक श्री प्रफुल्ल मरकाम को भावभीनी विदाई दी। श्री सदानंद कुमार (आईपीएस) ने उप निरीक्षक (एमटी) श्री जशबीर सिंह और सहायक उप निरीक्षक श्री प्रफुल्ल मरकाम के कर्तव्यनिष्ठा का सम्मान करते हुए उनके उज्जवल भविष्य की कामना की।

उप निरीक्षक (एमटी) श्री जशबीर सिंह 10.04.1979 को 11वीं वाहिनी मध्यप्रदेश विशेष सशस्त्र बल, भिलाई में आरक्षक के पद पर भर्ती होकर विशेष सशस्त्र बल, छत्तीसगढ़ सशस्त्र बल और छत्तीसगढ़ पुलिस के विभिन्न इकाइयों में तैनात रहे। श्री जशबीर सिंह सहायक उप निरीक्षक के पद पर 12.19.2007 को जिला पुलिस बल, नारायणपुर में आमद आये, वे आज दिनाँक 30/04/2022 को पुलिस विभाग में 43 साल 20 वर्ष उत्कृष्ट सेवा देने के बाद रिटायर हुए हैं। वहीं सहायक उप निरीक्षक श्री प्रफुल्ल मरकाम, दिनाँक 12.04.1986 को जिला पुलिस बल, जगदलपुर में आरक्षक (जीडी) के पद पर नियुक्त होकर जिला जगदलपुर एवं दंतेवाड़ा में सेवा दिये, तत्पश्चात् दिनाँक 25.09.2018 को सहायक उप निरीक्षक के पद पर जिला नारायणपुर में पदोन्नति पर आमद आये। श्री प्रफुल्ल मरकाम पुलिस विभाग में कुल 36 वर्ष 18 दिवस तक निरंतर उत्कृष्ट सेवा देने के पश्चात् आज दिनाँक 30.04.2022 को सेवानिवृत्त हुए हैं।

विदाई समारोह के दौरान पुलिस अधीक्षक श्री सदानंद कुमार (आईपीएस) के साथ डीएसपी सुश्री उन्नति ठाकुर, आरआई श्री दीपक साव, उप निरीक्षक श्री लीला साहू, लाइन ऑफिसर एएसआई श्री नीलकमल दिवाकर सहित रक्षित केंद्र के सैकड़ों अधिकारी/कर्मचारी उपस्थित रहे।
Share:

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment



प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कैसे करें?


यह वेबसाइट /ब्लॉग भारतीय संविधान की अनुच्छेद १९ (१) क - अभिव्यक्ति की आजादी के तहत सोशल मीडिया के रूप में तैयार की गयी है।
यह वेबसाईड एक ब्लाॅग है, इसे समाचार आधारित वेबपोर्टल न समझें।
इस ब्लाॅग में कोई भी लेखक/व्यक्ति अपनी मौलिक पोस्ट प्रकाशित करवा सकता है। इस ब्लाॅग के माध्यम से हम शैक्षणिक, समाजिक और धार्मिक जागरूकता लाने तथा वैज्ञानिक सोच विकसित करने के लिए प्रयासरत् हैं। लेखनीय और संपादकीय त्रूटियों के लिए मै क्षमाप्रार्थी हूं। - श्रीमती विधि हुलेश्वर जोशी

सबसे अधिक बार पढ़ा गया लेख