नारायणपुर : जिला पुलिस बल के नव पदोन्नत सहायक उप निरीक्षक और प्रधान आरक्षक ने आयोजित किया मिलन समारोह; जवानो ने पहली बार पुरे पुलिस परिवार के साथ मिलकर भव्य तरीके से अपने पदोन्नति के पल को एन्जॉय किया

नारायणपुर : जिला पुलिस बल के नव पदोन्नत सहायक उप निरीक्षक और प्रधान आरक्षक ने आयोजित किया मिलन समारोह; 
जवानो ने पहली बार पुरे पुलिस परिवार के साथ मिलकर भव्य तरीके से अपने पदोन्नति के पल को एन्जॉय किया

दिनांक 19.12.2021 को जिला पुलिस बल, नारायणपुर में हाल ही में पदोन्नति प्राप्त सहायक उप निरीक्षक और प्रधान आरक्षक ने पहली बार "मिलन समारोह" का आयोजन किया। पदोन्नति प्राप्त जवानों द्वारा आयोजित "मिलन समारोह" में जिले के पुलिस अधीक्षक श्री गिरिजा शंकर जायसवाल और अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक श्री नीरज चंद्राकर, उप पुलिस अधीक्षक श्री अनुज कुमार, उप पुलिस अधीक्षक श्री अरविन्द खलखो, आरआई श्री दीपक साव सहित पुलिस परिवार के लगभग 900 सदस्यों ने शिरकत की।

उल्लेखनीय है कि जवानो की बड़े पैमाने में पदोन्नति पाने का यह पहला अवसर रहा है इसीलिए पुलिस जवानों का समारोह भी अत्यंत भव्य रहा। राज्य में यह अपने किस्म का पहला बड़ा पार्टी रहा जिसमे किसी कनिष्ठ कर्मचारियों के पदोन्नति की ख़ुशी को जाहिर किया जा सका। पदोन्नति प्राप्त 35 सहायक उप निरीक्षक और 149 प्रधान आरक्षक और उनके परिवार सहित नारायणपुर पुलिस परिवार की महिलायें और बच्चों ने पहली बार डीजे में नृत्य और कोरियोके सांग्स में गाने का आनद उठाया।

पुलिस जवानो द्वारा आयोजित कार्यक्रम "मिलन समारोह" के दौरान बच्चों और महिलाओं की खुशियों को देखकर पुलिस अधीक्षक श्री गिरिजा शंकर जायसवाल भाविभोर हो गए और बच्चों की खुशियों में चार चाँद लगाने उन्हें पुष्प गुच्छ दिए।

रिलेटेड ईमेगेस : 




Share:

0 टिप्पणियाँ:

Post a Comment


प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी कैसे करें?


यह वेबसाइट /ब्लॉग भारतीय संविधान की अनुच्छेद १९ (१) क - अभिव्यक्ति की आजादी के तहत सोशल मीडिया के रूप में तैयार की गयी है।
यह वेबसाईड एक ब्लाॅग है, इसे समाचार आधारित वेबपोर्टल न समझें।
इस ब्लाॅग में कोई भी लेखक/व्यक्ति अपनी मौलिक पोस्ट प्रकाशित करवा सकता है। इस ब्लाॅग के माध्यम से हम शैक्षणिक, समाजिक और धार्मिक जागरूकता लाने तथा वैज्ञानिक सोच विकसित करने के लिए प्रयासरत् हैं। लेखनीय और संपादकीय त्रूटियों के लिए मै क्षमाप्रार्थी हूं। - श्रीमती विधि हुलेश्वर जोशी

सबसे अधिक बार पढ़ा गया लेख