Thursday, April 26, 2018

चिटफण्ड कंपनियों के फरार आरोपियों को तत्काल गिरफ्तार किया जाए - आईजी दुर्ग

चिटफण्ड कंपनियों के फरार आरोपियों को तत्काल गिरफ्तार किया जाए - आईजी दुर्ग


चिटफण्ड कंपनियों के माध्यम से भोले-भाले गरीब जनता को कम समय में धन दोगुना करने का लालच देकर एजेंटो के माध्यम से पैसा निवेश कराने और नियत तिथि के पूर्व सारा कारोबार बंद कर भाग जाने से आम जनता को भारी आर्थिक नुकसान होता है। जिसे ध्यान में रखते हुए श्री जीपी सिंह, पुलिस महानिरीक्षक, दुर्ग रेंज द्वारा दिनांक 26/04/2018 को आईजी कार्यालय में पुलिस अधीक्षक, दुर्ग श्री संजीव शुक्ला, राजपत्रित अधिकारी व थाना प्रभारियों की बैठक ली गई। उक्त बैठक में चिटफण्ड कंपनियों के विरूद्ध दुर्ग जिले में पंजीबद्ध लंबित अपराधों की समीक्षा की गई। जिले में चिटफण्ड कंपनियों के संबंध में लगभग 25 प्रकरण लंबित पाए गए हैं जिन्हें सुनियोजित तरीके से कार्यवाही कर निराकृत करने हेतु दिशा-निर्देश दिए गए। 

बैठक के दौरान चिटफण्ड कंपनियों में संलिप्त मुख्य आरोपियों के विरूद्ध तत्काल लुक-आॅउट नोटिस एवं रेड-काॅर्नर नोटिस जारी करने के संबंध में पुलिस अधिकारियों को निर्देशित किया गया। गिरफ्तारी हेतु ऐसे फरार आरोपियों की आयकर डिटेल्स, बैंक डिटेल्स, प्रापर्टी प्रोफाईल एवं फैमिली प्रोफाईल को आधार बनाकर सायबर सपोर्ट एवं सायबर ट्रैकिंग के माध्यम से कार्यवाही किए जाने हेतु मार्गदर्शन दिया गया। संबंधित कंपनियों के सीए से जानकारी लेकर कंपनी के बैलेंश-शीट, निवेश, अर्जित चल-अचल संपत्ति की जानकारी प्राप्त कर ली जाए तथा जिला कलेक्टर को पत्र लिखकर ऐसी चल-अचल संपत्तियों की कुर्की संबंधी कार्यवाही की जाए, ताकि निवेशकों को राहत मिल सके। 
श्री सिंह द्वारा चिटफण्ड कंपनी के लंबित प्रकरणों में फरार आरोपियों की गिरफ्तारी हेतु राजपत्रित अधिकारी को नोडल बनाकर एक विशेष टीम गठित का गठन करने तथा लंबित प्रकरणों पर समयबद्ध तरीके से न्यायालय में चालान प्रस्तूत करने हेतु निर्देशित किया गया।

Share:

Popular Information

Most Information